अस्थमा एक फेफड़ो से जुडी हुई बीमारी है, जब किसी को सांस लेने वाली नलिका में संक्रमण की शिकायत या कोई परेशानी हो जाती है जिससे उन्हें खांसी और सांस लेने में परेशानी हो तो उसे अस्थमा या दमा भी कहते है | अस्थमा में शवास नली की माँसपेशियाँ सुकड़ जाती है और नाली तंग हो जाती है | इसकी वजह से फेफड़ों में जानें और निकलने वाली वायु कष्ट देती है |

अस्थमा रोगी को ज्यादा परेशानी कब होती है?

किसी भी व्यक्ति को जो अस्थमा से पीड़ित हो उसे अपना बहुत ख्याल रखना पड़ता है क्योंकि मौसम बदलते समय उन्हें बहुत सी परेशानियों का सामना करना पढ़ सकता है | इसके साथ साथ उन्हें धूल -मिटटी, प्रदूषण से भी बच कर रहना चाहिए क्योंकि ये सब भी उनकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकती है |

अस्थमा के कारण:

  • सिगरेट, शराब या और किसी तरह का नशा करना भी इस बीमारी को जन्म दे सकता है |
  • सर्दी, ख़ासी या सुकाम का लम्बे समय तक होना |
  • गुर्दे या फेफड़ों का कमज़ोर होना |
  • तला हुआ मसालेदार ज़्यादा खाने से |
  • ज़्यादा धूल मिटटी वाली जगह पर रहना भी एक कारण हो सकता है |

अस्थमा ठीक करने के उपाय

एक बात जो आपके लिए जानना बहुत आवयशक है वो ये कि अस्थमा को पूरी तरह से ठीक नहीं किया जा सकता है पर हा इन उपायों के उपयोग से काफी हद तक उसका इलाज किया जा सकता है | अस्थमा ठीक करने के लिए कुछ घरेलू उपाय

  1. शहद – शहद अस्थमा ठीक करने के लिए बहुत उपयोगी घरेलू नुस्खा है | आप शहद को गर्म पानी में मिला कर उसका भाप ले इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा | शहद में पाए जाने वाली एंटी-बैक्टीरियल बलग़म से लड़ने में सहायक होती है |
  2. सरसों का तेल – सरसों का तेल ले और उस्समे कपूर मिला लें लेकिन छाती पर लगाने ले पहले ये सुनिश्चित करलें कि तेल थोड़ा गरम हो ताकि आपको थोड़ी गर्मी महसूस हो | ऐसा अगर आप रात को सोते समय करेंगे तो इसका फयदा बढ़ जायेगा |
  3. ग्रीन टी – इसे हर्बल टी भी कहते है, इससे कम से कम दिन में 2 बार गरमा गरम पीजिये | इसमें पाए जाने वाले कई पदार्थ दमा ठीक करने में फायदेमंद होते है |
  4. इन्हेलर्स – अस्थमा को ठीक करने के लिए आप चिकितसक के कहने पर इन्हेलर्स का भी इस्तेमाल कर सकते है |
  5. घर साफ़ रखें – ये आपके लिए बहुत ज़रूरी है कि आप अपना बहुत साफ़ रखें | कही भी धूल जमने न दे, घर को बहुत हवा दार बनाएं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here